कांग्रेस ने चीन की सरकार से पैसे लिए | राजीव गांधी फाउंडेशन की पूरी सच्चाई

कांग्रेस ने चीन की सरकार से पैसे लिए | राजीव गांधी फाउंडेशन की पूरी सच्चाई

भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहां पर सभी पार्टी तथा लोगों को अपने विचार रखने का हक है, लेकिन कांग्रेस कभी कभी सरकार का विरोध करने के बजाय देश तथा देश के वीर जवानों का विरोध करने लगती है।

लेकिन कांग्रेस सरकार अपने झूठ और देश विरोधी बयानों के कारण सुर्खियों में बना रहता है। कुछ दिन पहले भारत और चीन की सीमा पर जवानों के बीच कुछ विवाद चल रहा था उसमें कांग्रेस ने हमारे देश के जवानों के ऊपर काफी सारे सवाल उठाए और सरकार से कहा कि जनता को बताइए कि चीन की सेना कितनी अंदर तक आ चुकी है।

लेकिन फिर धीरे-धीरे जांच में पता चला कि सोनिया गांधी की जो फाउंडेशन है(राजीव गांधी फाउंडेशन) उसमें 2006 में चीन के भारतीय दूतावास से 10 लाख रुपए आए थे, बाद में जब इसकी और जांच होती है तो पता चलता है चीन की सरकार ने भी राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसे दिए हैं इस तरह पूरे 90 लाख रुपए चीन से भारत के राजीव गांधी फाउंडेशन में डोनेट किए गए।

अब सोचने वाली बात यह है कि चीन की सरकार राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसे क्यों दे रही थी क्योंकि अगर आप इसकी पूरी लिस्ट देखें तो सिर्फ कंपनी ही हैं जो इस फाउंडेशन में डोनेट की है चीन को छोड़कर और कोई भी देश आपको यहां पर नहीं दिखेगा।

21 मई 1991 को राजीव गांधी की हत्या हुई, और 21 जून 1991 को राजीव गांधी फाउंडेशन की शुरुआत सोनिया गांधी की अध्यक्षता में होती है। यानी राजीव गांधी जी की मृत्यु को सिर्फ एक ही महीने हुए थे और राजीव गांधी फाउंडेशन की स्थापना हो गई थी।

राजीव गांधी फाउंडेशन के स्थापना कृषि विज्ञान प्रतियोगिता तथा लोगों की मदद करने के लिए हुई थी, लेकिन शायद ही आपने कोई ऐसा काम देखा या सुना होगा जो राजीव गांधी फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा है।

बाद में जब इसकी और जांच हुई तो पता चला की प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष ने भी इसमें पैसे डोनेट किए अब सोचने वाली बात यह है कि प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष जिसे देश में आपदाओं के लिए बनाया गया है वह राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसे क्यों दे रहा है। और तो और जब रिपोर्ट को ध्यान से देखा गया तो पता चला कि 2007 से 2013 के बीच में सात अलग-अलग और मंत्रिमंडल ने भी राजीव गांधी फाउंडेशन ने पैसे दिए।

इन सब से तो यही निष्कर्ष निकलता है कि कांग्रेस की सरकार जब भी सत्ता में आती है वह धीरे-धीरे बड़ी चालाकी से पैसे राजीव गांधी फाउंडेशन में डालती और चीन जैसे देशों से पैसे लेकर अपने देश को उनके हाथों बेचते थे और फिर जो सरकार इसके लिए लड़ रही है उसे कमजोर करने के लिए इस पर बार-बार सवाल उठाती है, तो दोस्तों आप सभी से यही अनुरोध है कि अपने जीवित होने का सबूत दें जो गलत हो रहा है उसके खिलाफ आवाज उठाइए ।

जय हिंद जय भारत 🇮🇳

Leave a Reply